Candle making Business Plan in hindi – मोमबत्ती बनाने का बिजनेस कैसे करें

Candle making Business Plan in hindi:  दोस्तों, आज के समय में कई लोग ऐसे हैं जो अंधेरे में मोमबत्ती जलाना पसंद करते हैं। ऐसे लोगों की तादाद करोड़ों में है। मोमबत्ती का उपयोग न केवल अंधेरे को दूर करने के लिए, बल्कि अन्य कई कारणों में भी किया जाता है, जैसे कि – धार्मिक कारणों से, फैशन के अंतर्गत, तथा अन्य कई तरीकों से मोमबत्ती का इस्तेमाल किया जाता है।

इसीलिए कई लोग यह जानना चाहते हैं कि Candle making Business Plan in hindi  क्या है। यानी कि मोमबत्ती बनाने का बिजनेस कैसे किया जा सकता है। यदि आप यह जानना चाहते हैं कि मोमबत्ती बनाने का बिजनेस कैसे करें, यानी कि Candle making Business Plan in hindi  क्या है, तो आप बिल्कुल सही जगह हैं। क्योंकि आज मैं आपको इसके बारे में सारी जानकारी देंगे।

तो चलिए शुरू करते हैं –

मोमबत्ती क्या है?

मोमबत्ती मोम से बना हुआ एक प्रकाशक तत्व है। यह जल में न घुलने वाला पेट्रोलियम आधारित विलायक है। मोमबत्ती एक वह वस्तु है जिसका इस्तेमाल लोग आमतौर पर अंधेरे को दूर करने के लिए एक प्रकाशक तत्व के रूप में करते हैं। मोमबत्ती मोम से बनी हुई एक प्रकाश दंडीका होती है जिसके ऊपर के धागे को जलाने से वह धागा मोम को पिघलाकर उसका इस्तेमाल ईंधन के रूप में करता है।

वह इंधन अर्थात मोम धागे को लगातार जलते रहने में मदद करती है। इस प्रकार एक मोमबत्ती काम करती हैं, और मोमबत्ती का इस्तेमाल आधुनिक समय पर किया जाता रहा है। 1834 में पहली बार जोसेफ मॉर्गन ने मोमबत्ती का आविष्कार किया था, और तब से लेकर आज तक मोमबत्ती का मार्केट आगे ही बढ़ता रहा है। वर्तमान समय में लोग अंधेरे को दूर करने के लिए टॉर्च, बल्ब, सौर ऊर्जा से चार्ज होने वाली लाइट, बिजली का इस्तेमाल करते हैं।

लेकिन इन सबके अलावा भी कई लोग ऐसे हैं जो इन सब उत्पादकों के मौजूद होने के बावजूद मोमबत्ती का इस्तेमाल करते हैं। आज के समय बिजली हर गांव शहर में पहुंचती है लेकिन जब भी बिजली चली जाती है तब लोग इनवर्टर टॉर्च बल्ब का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन कई लोग इस सप्ताह इस्तेमाल करने के बजाय मोमबत्ती का इस्तेमाल करते हैं।

इसके अलावा भी मोमबत्ती का इस्तेमाल त्योहारों में, सजावट के लिए, रोमांटिक माहौल बनाने के लिए, रोमांटिक डिनर के लिए, कैंडल लाइट डिनर के लिए, इन सब के लिए किया जाता है। आज भी मोमबत्ती का व्यवसाय सैकड़ों व्यापारियों की आजीविका है, और सैकड़ों व्यापारी अपनी आजीविका कमाने के लिए मोमबत्ती बनाने और उसे बेचने का काम करते हैं।

Candle making Business Plan in hindi

“आज के समय मोमबत्ती का व्यापार काफी तेज़ी से आगे बढ़ रहा है, यह निश्चित हो चुका है कि मोमबती का व्यापार न केवल अँधेरे को दूर करती है बल्कि लोग इससे हटकर भी मोमबत्ती का इस्तेमाल कई निजी कारणों से करते है, जो आपके व्यापार के लिए अच्छा है।”

www.bloggingcity.in
Candle making Business Plan in hindi से सम्बंधित सवालजवाब
Candle के बिज़नस में कितना निवेश जरूरी है?कम से कम 20 हजार रुपये का निवेश
Candle के बिज़नस में कितना प्रॉफिट बनता है?60% का प्रॉफिट (कुल प्रॉफिट)
Candle का अविष्कार किसने किया?जोसेफ मॉर्गन ने
Candle का अविष्कार कब हुआ?1834 में
Candle कितने प्रकार की होती है?मोमबत्ती अनेकों प्रकार की होती है, जैसे कि – रंग बिरंगी मोमबत्ती, लम्बी मोमबत्ती, गोल मोमबत्ती, फैशनेबल मोमबत्ती, सुगन्धित मोमबत्ती इत्यादि

यह भी पढ़ें – साबुन बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

मोमबत्ती कैसे बनती है?

मोमबत्ती बनाने के लिए आपको मोम मिल जाता है, जिसके पश्चात आप आसानी से एक बत्ती का इस्तेमाल करते हुए यानी कि एक सूत के मोटे धागे को इस्तेमाल करते हुए, पिघले हुए मोम के अंतर्गत अंदर तक डाल दिया जाता है। जिसके पश्चात वह धागा ज्वलनशील मोमबत्ती मैं प्रकाशक का काम करती है, जिसमें आपको मोमबत्ती के धागे को जला देना है, और वह धागा मोड़ को पिघलाकर धीरे-धीरे लगातार चलता रहेगा।

मोमबत्ती बनाने के लिए आपको कई प्रकार के सांचों की आवश्यकता क्यों होती है, जिसमें आप मोमबत्ती के मोम को डालकर उसे आकार प्रदान करते हैं। मोमबत्ती कई आकार में रंग में सुगंध में हमारे पास उपलब्ध हो सकती है, यदि आप भी ऐसे ही मोमबत्ती को प्राप्त करना चाहते हैं तो मार्केट में आप वैसी मोमबत्ती ढूंढ सकते हैं। यदि आप चाहें तो स्वयं भी अलग-अलग सांचों में मोमबत्ती को डालकर मोम से तैयार किए हुए मोमबत्ती बना सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि आपको स्टील के या फिर लोहे के सांचे तैयार करने होंगे।

मोमबत्ती के अंदर जो बत्ती इस्तेमाल की जाती है वह मोटा सूत का धागा होता है, और सूत का धागा आपको किसी भी धागे की दुकान पर आसानी से मिल सकता है।

मोमबत्ती का बिजनेस कैसे शुरू करें? – Candle making Business Plan in hindi  

मोमबत्ती का बिजनेस कैसे शुरू करें

यदि आप मोमबत्ती का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको मोमबत्ती का बिजनेस छोटे स्तर पर शुरू करना होगा। हालांकि मोमबत्ती बनाने के लिए बड़ी और भारी-भरकम मशीनों का इस्तेमाल भी किया जाता है लेकिन यदि आप शुरुआती तौर पर मोमबत्ती का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको भारी-भरकम मशीनों का इस्तेमाल करने की आवश्यकता नहीं है। आप साधारण रूप से अपने कमरे में मोमबत्ती के आंसुओं में मोम को पिघला कर और मोमबत्ती के अंतर्गत बत्ती को डालकर मोमबत्ती का निर्माण कर सकते हैं।

आप बिना भरी भरकम मशीनों के इस्तेमाल के भी प्रतिदिन 500 मोमबत्तियां बना सकते हैं। हालांकि एक बड़े मोमबत्ती के बिजनेस के दौरान प्रतिदिन 50,000 से 55,000 मोमबत्तियां बनाई जाती है। एक छोटे बिजनेस के तौर पर प्रतिदिन 500 मोमबत्ती बनाकर भी आप हर महीने ₹20000 से ₹25000 तक का प्रॉफिट कमा सकते हैं।

यह भी पढ़ें – कॉपी बनाने का Business कैसे शुरू करें

इसके लिए आपको कुछ स्टेप्स का पालन करना होगा, जैसे कि –

  • सबसे पहले आपको ऐसे सेक्टर की तलाश करनी होगी जहां पर मोमबत्ती की मांग अधिक हो।
  • इसके पश्चात आपको मोमबत्ती बनाने के लिए एक जगह की तलाश करनी होगी।
  • यदि आप चाहें तो अपने घंटे में इसका व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।
  • उसके पश्चात आपको थोड़े फंडिंग का जुगाड़ करना होगा।
  • आपको कम से कम ₹50,000 तक का जुगाड़ करना होगा जिसमें आप मोमबत्ती बनाने की मशीन बत्ती बनाने के सांचे खरीद सकते हैं।
  • इसके अलावा हम भी खरीद सकते हैं और मोमबत्ती के अंतर्गत इस्तेमाल की जाने वाली भी खरीद सकते हैं, और इन्वेस्टमेंट के साथ आप अपने बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।
  • यदि आप चाहें तो अपने बिजनेस को सरकार के पास रजिस्टर करवा कर प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत के लिए ऋण भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसके पश्चात कच्चे माल को प्रोसेस करके आपको भूपति का निर्माण करना होगा और मोमबत्ती को पॉलिथीन की थैलियों में पैक करके बेचना शुरू करना होगा।
  • जब आपके पास कम से कम 100 ग्राहकों की एक लिस्ट तैयार हो जाए, जो रेगुलर कस्टमर के तौर पर आपसे मोमबत्तियां खरीदना शुरू करें, तो आपको इसके पश्चात अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए एक प्रॉपर कैंडल मेकिंग मशीनरी की स्थापना करनी होगी।
  • जिसके पश्चात आपको अपने व्यवसाय को 500 मोमबत्तियां प्रतिदिन की संख्या से ₹5000 प्रतिदिन की संख्या तक आगे बढ़ाना होगा।
  • जिसके पश्चात आपको अपने व्यवसाय को भी और आगे बढ़ना होगा।
  • अपने व्यवसाय को एक नाम देकर अपनी व्यवसाय को लघु उद्योग के अंतर्गत भारत सरकार की व्यवसाय शाखा के अंतर्गत रजिस्टर करवाना होगा।
  • इस प्रकार आप एक मोमबत्ती बनाने का व्यापार कर सकते हैं, यानि कि  भारत कैंडल मेकिंग बिजनेस कर सकते हैं।

मोमबत्ती का बिजनेस करने की Process

यदि आप मोमबत्ती का बिजनेस करना चाहते हैं तो इसकी प्रोसेस कुछ इस प्रकार है-

  • सबसे पहले आपको एक ऐसे स्थान को ढूंढना होगा जहां पर मोमबत्ती खरीदने वाले लोगों की संख्या ज्यादा हो या एक ऐसे प्रदेश को ढूंढना होगा जहां पर मोमबत्ती का बिजनेस फायदेमंद हो।
  • इसके पश्चात आपको अपने मोमबत्ती का बिजनेस प्लान अच्छे तरीके से लिखना होगा, कि आपको कहां से शुरू करना है, और कहां तक आपका लक्ष्य निर्धारित रखना है।
  • इसके पश्चात आपको मोमबत्ती बनाने का बिजनेस करना शुरू कर देना है, जिसके लिए शुरुआती तौर पर आप एक अच्छे स्थान के तौर पर अपने घर का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • घर पर आप मात्र एक कमरे में बैठकर मोमबत्ती बनाना शुरू कर सकते हैं। लेकिन यदि आप बड़े स्तर पर मोमबत्ती बनाना शुरू करना चाहते हैं तो आपको एक दुकान की आवश्यकता होगी जिसके लिए आपको 50 गुना 50 फीट की एक दुकान की आवश्यकता होगी।
  • यदि आप चाहे तो बड़ी दुकान ले सकते हैं। लेकिन कम से कम आपको इतनी बड़ी दुकान की आवश्यकता जरूर होगी, जिसके पश्चात आप अपनी दुकान पर कच्चा माल एकत्र कर लेना है और मोमबत्ती बनाने की छोटी मशीनरी अपने पास रखनी होगी, जो मात्र ₹10,000 से ₹20,000 के मध्य आसानी से मिल जाती है।
  • इसके बाद आपको मोमबत्ती बनाने के लिए सांसो की आवश्यकता होगी और अंत में आपको कच्चे माल के तौर पर मोमबत्ती के लिए मोम और बत्ती के लिए धागे की आवश्यकता होगी, जिसे असेंबल करके आपको मोमबत्ती तैयार कर लेनी है।
  • यदि आप चाहें तो नहीं नहीं आकृतियों की मूर्तियां बना सकते हैं, जिसके पश्चात आपको इन मोतियों का पैकेट में पैक करके भेजना शुरू कर देना है।
  • इस प्रकार आप मोमबत्ती का बिजनेस करना शुरू कर सकते हैं।
  • यदि आप मोमबत्ती के व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहते हैं तो इसकी प्रोसेस कुछ अलग प्रकार की होगी जो हमने आपको ऊपर बताइए।

यह भी पढ़ें – Entrepreneurship क्या है और कैसे करें

Candle making Business Plan in hindi संबंधित FAQ’s

मोमबत्ती कितने रुपए किलो है?

दोस्तों, वर्तमान समय में मोमबत्ती आपको ₹700 के हिसाब से मिल जाती है। यानी कि आपको 1 किलो मोमबत्ती ₹700 के आसपास मिल जाती है।


गूगल मोमबत्ती कैसे बनाई जाती है?

यदि आप गूगल मोमबत्ती बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको मोमबत्ती के टुकड़ों की चिकन तैयार करनी होगी, और उन टुकड़ों को पिघलाकर उनमें रंग बिरंगी कलर मिलाने होंगे जिसके पश्चात आपको सूत के धागे से तैयार किया हुआ एक धागा उस मोमबत्ती के घोल में डुबोकर ऊपर की ओर फिक्स कर देना है, जिसके पश्चात आपकी गूगल मोमबत्ती बनकर तैयार हो जाएगी। लेकिन यदि आप गूगल मोमबत्ती बनाने के लिए कांच के बर्तन का इस्तेमाल करते हैं तो वह मोमबत्ती और भी अधिक आकर्षक लगेगी।


क्या मोमबत्ती बनाना लघु उद्योग है?

दोस्तों, मोमबत्ती एक लघु उद्योग के अंतर्गत ही आता है। इसका अर्थ यह है कि यदि आप मोमबत्ती का बिजनेस करना चाहते हैं तो इसमें केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों आप को बढ़ावा देने के लिए काम करेंगे, और इसमें आपको प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी।
ऐसा देखा गया है कि मोमबत्ती का बाजार तकरीबन 8% की दर से आगे बढ़ रहा है, और इस प्रकार यह नए उद्यमियों को सहायता भी देता है।

निष्कर्ष: Candle making Business Plan in hindi  

दोस्तों, आज के लेख में हमने आपको बताया कि Candle making Business Plan in hindi  क्या है। इसके अलावा मोमबत्ती के बारे में हमने आपको और भी कई प्रकार की ऐसी जानकारी उपलब्ध करवाई है जो आपके लिए जानना जरूरी है।

हम आशा करते हैं कि आज का हमारा लेख पढ़कर आप समझ चुके होंगे कि Candle making Business Plan in hindi क्या है। यदि आप कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

About BloggingCity Editorial Team 242 Articles
BloggingCity.in आप लोगों के साथ Paise Kaise Kamaye, Blogging, SEO, Bussiness Ideas, Share Market, Apps, Gaming और सामान्य ज्ञान से सम्बंधित जानकारी साझा करने के लिए बनाई गयी है! यहाँ पर हम सिर्फ उन्हीं तरीकों के बारे में लिखते है जिन्हे हम खुद आजमाए हुए है की काम करते है या देख रहे है की दूसरे लोग उस काम से पैसे कमा रहे हैं! BloggingCity.in पर आने के लिए आपका दिल से धन्यवाद!

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*